कैसे 5 परिक्रमा से होता है लकवे(paralysis) का इलाज। “कुंवर कोटरी”

    0
    268

    आज हम एक ऐसे स्थान के बारे में बात कर रहे हैं जो पिछले कई सालों से राज बना हुआ है बताते हैं कि लकवे या लकवा(paralysis) का कैसा ही पेशेंट हो वहां से ठीक होकर ही जाते हैं बताते हैं कि पहले दिन से ही मरीज में फर्क दिखने लगता है।

    आज हम बात कर रहे हैं मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले के एक छोटे से गांव कुंवर कोटरी की बताते हैं कि यहां पर आज से कई साल पहले सद गुरु मानगिरी जी महराज ने यहां पर समाधि ली थी और ऐसा वरदान है जो भी इस समाधि के पांच परिक्रमा लगाएगा और यहां की भभूत खाएगा तो लकवे(paralysis) का कैसा ही मरीज हो वह यहां से ठीक होकर ही जाएगा।

    केसे होता है लकवे(paralysis)का इलाज बिना पैसे के :-

    बताते हैं कि लकवे(paralysis)के मरीज को गुरुवार की शाम को लाना होता है और वह रात वहीं रुकना पड़ता है मरीज को समाधि के पांच परिक्रमा लगवाई जाती है और भभूत खिलाई जाती है, रात को 10:30 बजे और सुबह की 5:00 बजे वहां आरती होती है वह आरती लेना बहुत जरूरी होता है।

    आपको लगातार पांच गुरुवार इसी प्रकार यहां रुकना होगा और परिक्रमा लगानी होगी तब जाकर मरीज पूरी तरह स्वस्थ होता है। पहले दिन से ही मरीज में असर(improvement) दिखना शुरू हो जाता है

    ठहरने की व्यवस्था :-

    रहने की व्यवस्था समिति द्वारा करवाई जाती है और हर गुरुवार वहां पर भंडारा भी रखा जाता है जिससे दूरदराज के लोग रसीद कटवा कर खाना खा सकते हैं।

    गुरुवार के दिन यहां पर हजारों की तादाद में लोग आते हैं और सब के खाने का प्रबंध समिति द्वारा किया जाता है,

    कैसे पहुंच सकते हैं कुंवर कोटरी( लकवा का सफल इलाज) :-

    आप अपना निजी वाहन यहां ला सकते हैं समिति ने पार्किंग की पूरी व्यवस्था कर रखी है जहां आपका वाहन सही सलामत रहता है, बस से अगर आप आना चाहते हैं पचोर जो नेशनल हाईवे 3 मुंबई आगरा रोड पर बसा हुआ है यहां से बस पकड कर कुंवर कोटरी जोड़ तक पहुंच सकते हैं,

    या भोपाल से अगर आप आना चाहते हैं तो नरसिंहगढ़ से आप बस पकड़ सकते हैं कुंवर कोटरी जोड़ तक, फिर वहा से आप को टेम्पो मिल जाएगा ।

    आप गूगल मैप की सहायता के माध्यम से भी कुंवर कोटरी धाम पहुंच सकते हैं बस आपको गूगल पर लिखना होगा कुंवर कोटरी राजगढ़ मध्य प्रदेश।

    महत्वपूर्ण जानकारी( लकवे का इलाज) :-

    अगर आपके घर परिवार के किसी सदस्य को लकवा(paralysis)जैसी गंभीर बीमारी का सामना कर रहे हैं तो डॉक्टर की दी हुई गोली दवाई को बंद ना करके आप यहां एक बार गुरु जी महाराज के दर्शन करवा सकते हैं बताते हैं कि पहले दिन से ही मरीज में फर्क दिखने लगता है।

    अगर मरीज में फर्क नजर आता है तो आप पूरी पांच गुरुवार विधि विधान से मरीज को यहां दर्शन भभूत और परिक्रमा लगाइए हो सकता है पिछले कई सालों से डॉक्टर की दी हुई गोली दवाई से ठीक ना हुए हो, क्या पता गुरु महाराज की कृपा उन पर बरसे और वह ठीक हो जाए, क्योंकि हजारों की तादाद में लोग यहां से ठीक हो कर गए हैं।

    कहते हैं ना कि जब दवा असर करना बंद कर दे तो दुआ ही काम आती है हो सकता है गुरु महाराज की दुआ मरीज को लगे और वह ठीक हो जाए।

    मैंने इस आर्टिकल में जो भी लिखा है वह उस जगह पर जाकर खुद अपनी आंखों से देखा और और महसूस किया है वरना ऐसे ही इतनी तादाद में लोग यहां नहीं आते, मैंने यह चमत्कार मेरे दोस्त की मम्मी को और एक दोस्त की बहन को ठीक होते देखकर यह आर्टिकल लिखा।

    इस लिंक पर क्लिक करके आप पूरा वीडियो भी देख सकते हैं ।

    अधिक जानकारी के लिए आप समिति के सदस्य को सीधे फोन लाकर पूछताछ कर सकते हैं धन्यवाद।

    शिव नारायण जी कुँवर कोटरी

    96691 34838

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.